विवाह के 15 दिन में करे जाने वाले उपाय

विवाह के पहले 15 दिन और ग्रह 27 Oct 2012

केतु अजीबो गरीब कारणों से मन change करता है
केतु से इन्सान की सहन शक्ति ख़त्म हो जाती है
strong राहू  से बदला लेने की tendency
7th घर का केतु या सातवे घर के राहू से माता पिता के व्यवहार के कारण बच्चो का जीवन
बर्बाद हो जाता है
राहू के चलते वाणी दोष का असर नकारात्मक (शादी के बाद नकारात्मक)
शुक्र सूर्य मंगल राहू शनि दोष के चलते रिश्तो में खटास हो जाती है
राहू के दोष के चलते वाणी दोष उत्पन्न होता है जिससे रिश्तो में खटास होती है
राहू के चलते सम्बन्ध ख़राब होते है
गाज़र में बीटा carotine बहुत होता है गाज़र के सेवन से कील मुहासों में छुटकारा मिल जाता है
राहू के दोष के चलते वाणी दोष उत्पन्न होता है जिससे रिश्तो में खटास होती है
केतु के चलते घर के बड़े लोगो के अहं के चलते के कारण सम्बन्ध खराब होता है
केतु इन्सान को आसानी से समझौता नहीं करने देता
कलह ज्यादा हो तो प्याज के  रस  से रोटी पर जीवन साथी का नाम लिख कर गाय को रात में खिला दे उससे
विश्वास ख़त्म नहीं होता
नशा छोड़ दे नशा राहू शनि को खुला निमंत्रण है
काले और धुंए रंग के कपडे नहीं पहनने चाहिये जीवन साथी को ध्यान में रखते हुए 10 मिनट ॐ ह्रीं का जप करे
माता पिता सफ़ेद फूल अपने पास रखे
राहू काल में खरीददारी avoid करे
जिनका विवाह न हो पा रहा हो वो नहाने के पानी में एक चुटकी हल्दी डाल के नहाये
जिनका विवाह न हो पा रहा हो वो सिद्ध हल्दी की गांठ पहने
शुक्र दोष वाले लडको के case में निम्नलिखित उपाय करे
ॐ नमो नारायण नमो नमः सुबह सुबह जपे
पानी वाला नारियल फोड़कर जल घर में छिडके
रात में जीवन साथी का ध्यान कर उसके चित्र से 2 लौंग उतारे
विवाह के 15 पहले से 7-8 कन्या या बुजुर्ग को कुछ खिला दे
15 दिन दही से स्नान करे शुक्र यदि कमजोर है तो विवाह के 2 दिन के अन्दर ही परेशानी आती  है
कमजोर शुक्र ख़राब माना जाता है
खुद पर विश्वास मतलब आत्म विश्वास
शरद पूर्णिमा के दिन करी गयी साधना विशेष सिद्धि देती है
कई लोगो का मानना है की मंगल दोष 32 साल या एक age के आगे जा के समाप्त हो जाता है ऐसा नहीं है
मंगल दोष के उपाय करते रहे जीवन पर्यंत विवाह करते समय आकाश में कोई क्रूर गृह लग्न में उदय न हो
इस बात का ध्यान रखे जैसे विवाह के समय मिथुन मकर कर्क लग्न हो आकाश में
विवाह कुंडली की लग्न शुभ स्थिति में हो तो मंगल दोष काफी हद तक कट जायेगा
नवमांश के लग्न में चन्द्र सूर्य …….. (नोट नहीं कर पाया )
विवाह के टाइम शुभ लग्न में हो यदि तो झगडे आदि के बावजूद तलाक नहीं होता
मंगल सूर्य चन्द्र ख़राब हो तो  दूध दही शहद गुड दान करे
मंगल वार या रविवार को चावल धो कर बहते पानी में बहा दे चावल थोडा सा हो (एक मुट्ठी से भी कम कोई एक दो किलो चावल नहीं चाहिये )
सोमवार को कोई ठोस गोली माँ या मामा से ले
लाल ईंट का दान करे  (पूजा स्थल या मंदिर या कहीं भी ) यदि शादी हो गयी है तो पति
पत्नी दोनों करे यह कार्य विवाह के पहले 15 दिन के अन्दर ही करे
मंगल दोष वाले लोग 
 
घर के सभी लोग चाँदी का तार  बहा दे अमावस्या वगैरह  को रेवड़ी या बताशे पानी में बहाये
मंगल दोष वाले लोग संध्या दीपक जरूर जलाये ये काम मंगल दोष वाले लोग खुद करे
यदि सूर्य या केतु कुपित तो शादी के समय तक आदमी doubt में रहता है ऐसे में शीशे के टुकड़े किसी निर्जन स्थान
में दबाये
शुक्र को गरीब बच्चे को दूध का दान करे (लड़की अगर रिश्ता तोड़ दे तो )
पूर्णमासी से अमावस्या तक जमीन पे शयन करे थोडा कठिन है लेकिन शरीर कुश के आसन पे touch करता रहे
गणेश जी का नाम ले के खाली घड़ा पानी में बहा दे
मंगल चण्डिका स्तोत्र का पाठ करे
8 छुहारे कुछ रत्ती दाने …..(नोट नहीं कर पाया ……)
लड़के लड़की को नज़र दोष से बचाये
मंगल दोष पितृ दोष वाले लोग अवश्य करे
विवाह के बाद पहली अमावस्या सूखे नारियल में पंचमेवा घी खाण्ड बांधकर गमले में दबा दे
1 साल बाद निकाले ,स्व ऋण या पितृ दोष , या मंगल आठवे घर में हो या love marriage किया हो
तो विवाह के 15 दिन के अन्दर या विवाह के 15 दिन के पहले ये सब उपाय जरूर कर ले
ऊपर लिखा सब कुछ अधूरा है इतना जल्दी जल्दी बोलते है की टाइम ही नहीं मिल पाता लिखने का
ये तो सब ज्योतिष या  कर्म काण्ड है यदि ऊपर वाले की इच्छा नहीं है तो सारे उपाय कर के भी सब
टूट जायेगा  मेरा ये कहने का ये मतलब नहीं है की आप श्रद्धा खो दे या उपाय न करे
1-2 बार उपाय कर के भी लोग भटकते रह जाते है कई बार लोगो को वही उपाय कई बार करने पे
फायदा दे जाता है कब क्या कैसे होगा ये मेरे जैसे साधारण लोग नहीं बता सकते ….
हम लोग किताब पढ़ के उसे समझ के internet पे डाल सकते है होना या न होना भगवान
के हाँथ में है
यदि आप बुरे वक्त से गुजर रहे है तो श्रद्धा अनुसार भगवन का नाम ले के उपाय कर के देख ले
ज्योतिष की किसी किताब में या कोई भी व्यक्ति इस बात की गारंटी नहीं ले सकता की ये सब
उपाय कर के भी आप बिगड़ी हुई चीज़ बना लेंगे इन्सान कर्म कर सकता है फल देना या न देना
भगवान के हाँथ में है, जब पूर्व जन्म के संचित पाप कर्म कट जायेंगे तभी शायद आपको सही उपाय
पता लगे या पूर्व जन्म का किया हुआ कोई पुण्य आपके कठिन समय में उदय हो जाये
तो शायद सही बात/उपाय पता लग जायेगा वरना इन सब उपायों को करते करते आप भटक
जाओगे मैंने ये सब अच्छे इरादे से लिखा है कोई जरूरी नहीं है की इनमें से कोई भी चीज़
काम करे सारे ग्रह विपरीत होने पे भी वो ऊपर वाला जिसका चाहे काम बना दे बिना किसी
उपाय के और जिसका चाहे सब कुछ सही होते हुए भी काम बिगड़ जाये
lecture देना आसान है जिसपे बीततीहै वही जानता है
मैं नहीं जानता की इन उपायों को करने से क्या होगा लेकिन इस उम्मीद से लिख दिया है की
यदि किसी का जाने अनजाने फायदा हो जाय तो बहुत अच्छा है भगवान आपका भला करे

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s